hindwatch@gmail.com

Share whatsapp Facebook Linkedin Twitter

मामाअर्थ प्रोडक्ट की शुरुआत कब और कैसे हुआ ?| मामाअर्थ क्या है , और इसके फाऊंडर कौन है ?

मामाअर्थ के ब्रांड एम्बेसडर शिल्पा शेट्टी कुंद्रा है । मामाअर्थ के सभी प्रोडक्ट 100% केमिकल-मुक्त हैं। मामाअर्थ भारत में एकमात्र ऐसा “मेड सेफ” प्रमाणित टॉक्सिन-मुक्त ब्रांड है जो सभी ज्ञात विषाक्त पदार्थों से मुक्त है जो अधिकांश देशों में प्रतिबंधित होता है ।

मामाअर्थ की शुरुआत कब हुई ? :-   

  • मामाअर्थ की शुरुआत दिसम्बर 2016 में हुइ थी । जिसका कोफाऊंडर गजल अलघ है। उनके द्वारा ही मामाअर्थ की शुरुआत हुइ है . इनमें टॉक्सिन-फ्री बॉडी लोशन, मच्छर भगाने वाले क्रीम आदि शामिल थे। कुछ ही महीनों के भीतर, बच्चों के लिए मच्छर भगाने वाला क्रीम अमेज़न पर सेल होन्ए वाला सबसे बेस्ट सेलर बन गया था। उन्हें इस प्रोडक्ट के लिए बहुत सारी सकारात्मक प्रतिक्रियाएं भी मिलीं थी ,

  • मामाअर्थ के लिये शुरूआत में, दोनों ने छोटे स्तर पर दोस्तों और परिवार के माध्यम से फंड जुटाए। अपने प्रोडक्ट को सही दिशा में ले जाने के लिए ग़ज़ल ने काफी बच्चों की मांओं से बात की, उनकी प्रतिक्रिया ली और महसूस किया कि कई लोग बेबी स्किन केअर प्रोडक्ट्स में मौजूद हानिकारक केमिकल के बारे में जानते तक नहीं हैं। अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग करने के अलावा, उन्होंने लोगों को इस बारे में शिक्षित करने पर भी जोर दिया कि किसी भी प्रोडक्ट का लेबल पढ़ते समय क्या देखना चाहिए . शुरुआत में उनका उद्देश्य  माता-पिता की मदद करना था। वह भारतीय माता-पिता के लिए एक समस्या का हल निकालना और आपने बच्चे के लिये बेहतर प्रोडक्ट बनाने कि कोशिश कर रही थी  । 

  • ग़ज़ल अलघ केहतीं हैं कि शुरुआत में उनके मन में यूनिकॉर्न कंपनी बनाने का कोई ख्याल नहीं था .गजल अलघ को कुछ समय बाद ग्राहकों ने ही सुझाव दिया कि उन्हें बड़ों के लिए भी सुरक्षित टॉक्सिन-मुक्त पर्सनल केयर प्रोडक्ट बनाना चाहिए।

  1.  ग़ज़ल अलघ बताती हैं कि वह ऐसे बिजनेस में निवेश करना पसंद करती हैं, जिससे किसी समस्या का हल निकले या फिर कोई ऐसा प्रस्ताव हो, जो वर्तमान में भारतीय बाजार में मौजूद नहीं है।
  2.  दूसरा महत्वपूर्ण पहलूये था के प्रोडक्ट को और बाजार में उसकी कीमत है। एक प्रोडक्ट जो अच्छा तो है, लेकिन उसकी कीमत इतनी ज्यादा है कि लोग उसे खरीद ही ना पाएं, तो यह बड़े पैमाने पर किया जाने वाला बिजनेस नहीं है।
  3. तीसरी बात जो निवेश करते समय ग़ज़ल देखती हैं, वह है बाजार का आकार जिसमें संबंधित फाउंडर काम कर रहा है। वह देखती हैं कि उनके पास बड़े बाजार की दूरदर्शिता है या नहीं। क्योंकि बाजार से ही बिजनेस बढ़ता है। वह कहती हैं, कि “एक बिजनेस तभी समझ में आता है, जब वह स्केलेबल और सस्टेनबल हो। गजल अलग बिजनेस से परे जाकर, फाउंडर्स में अधिक रुचि रखती हैं। वह देखती हैं कि क्या वे वास्तव में बिजनेस बनाने में अपनी सारी ऊर्जा लगाने के लिए तैयार हैं या नहीं ?  


ग़ज़ल  अलघ का जन्म और पालन-पोषण, चंडीगढ़ के एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ। उन्होंने कॉलेज में कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई की। उनकी पहली नौकरी NIIT में की थी । और इसके साथ - साथ गजल अलघ एक कॉर्पोरेट ट्रेनर भी थी। उनकी पेंटिंग में बचपन से ही दिलचस्पी थी। गजल अलघ 


  • गजल अलघ अपने शौक को बढ़ावा देते हुए 2013 में, उन्होंने ‘न्यूयॉर्क एकेडमी ऑफ आर्ट’ में फिगरेटिव आर्ट का एक कोर्स भी किया। अगस्त 2014 में अपने पहले बेटे अगस्त्य के जन्म तक, ग़ज़ल और वरुण अपने-अपने प्रोफेशनल करियर में लगे हुए थे।मामाअर्थ के बारे में बात करते हुए ग़ज़ल बताती हैं कि इसका आइडिया सबसे पहले उन्हें और वरुण को अपने पहले बेटे के जन्म के बाद आया था।गजल अलघ ने बताया कि उनके बच्चे की स्किन जन्म से ही संवेदनशील थी। किसी भी भारतीय प्रोडक्ट के इस्तेमाल से बच्चे की स्किन पर फौरन रैशेज आ जाते थे और वह बहुत रोता था। ग़ज़ल याद करते हुए कहती हैं, “तब माता-पिता के रूप में हमने अपने बच्चे के लिए बेहतर दुनिया बनाने की ठान ली थी। इसके बाद फिर दोनों  पती - पत्नी मिलकर भारत में बेबी स्किन केअर प्रोडक्ट्स पर अपना रिसर्च शुरु कर दिया। उन्होंने पाया कि कई प्रोडक्ट में विभिन्न तरह के केमिकल, टॉक्सिन और दूसरी चीज़ें मौजूद थीं, जो बच्चे के लिए काफी हानिकारक होती हैं। 


व्यवसय (business)  में अपका विचार , (मक्सद) क्या और कैसा होनी चाहिये ?

  •  मामाअर्थ के इस व्यवसाय में गजल अलघ ने बताया है कि मुझे लगता है कि किसी भी व्यवसाय को करने के लिए आपके पास एक बहुत ही मजबूत उद्देश्य होना चाहिए। जब समय कठिन हो, तो कुछ ऐसा होना चाहिए जो आपको आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करे।” खुद का उदाहरण देते हुए वह बताती हैं कि मामाअर्थ के शुरुआती दिनों में वह उद्देश्य उनका बेटा था। जब भी उन्हें लगता था कि चीजें कठिन होती जा रही हैं, तब गज्ल अलघ अपने बेटे अगसत्या का चेहरा याद करती थीं और उन्हें महसूस होता कि उन्हें यह करना ही चाहिये। उन्होने  बेंगलुरु के स्टार्टअप, यूवी हेल्थ में निवेश किया है। इस स्टार्टअप की फाउंडर महक मलिक हैं। यूवी हेल्थ महिलाओं की ज़रूरतों को पूरा करता है और “पीसीओएस या पीसीओडी, मासिक धर्म की समस्या, थायराइड, बांझपन और वजन बढ़ने, प्रजनन और स्वास्थ्य संबंधी चिंताओं के लिए एक बड़ा प्लेटफॉर्म प्रदान करता है.


  • गजल अलघ बताती हैं कि मुझे लगता है कि पीसीओएस या पीसीओडी और पीरियड से संबंधित मुद्दे ऐसे क्षेत्र हैं, जिन्हें भारत में अन्य हेल्थकेयर स्टार्टअप्स के बीच सक्रिय रूप से पूरा नहीं किया जा रहा है। ज्यादातर कंपनियां बड़ी और अधिक लोकप्रिय स्वास्थ्य चिंताओं से निपट रही हैं। महिलाओं में पीसीओएस या पीसीओडी  की यह समस्या हो सकती है . गजल अलघ ने एक और प्रोडक्ट  ब्लिसक्लब में  निवेश किया है, जो कि एक घरेलू भारतीय एक्टिववियर ब्रांड में से एक है.

 मामाअर्थ :  मामाअर्थ  हेल्थ केयर और फिट्नेस की एक भारतीय ब्रान्डेड कम्पनी है . जो की मां ,गर्भवती महिलांओ और बच्चों के जीवन को स्वस्थ , सुन्दर,और बेहतर बनाने मे मदद करता है ।  मामाअर्थ एक ऐसा ब्रान्ड है , जो सभी बच्चों को स्वस्थ और सुरक्षित  रखता है .  मामाअर्थ एक प्रकृतिक और  पर्यावरण के अनुकूल शरीर देखभाल के  लिए डिज़ाइन किए गए सौंदर्य और शिशु के देखभाल उत्पादों का निर्माता है .कंपनी के उत्पाद सूची में रासायनिक मुक्त प्रोडक्टहै ---

  1.  जैसे :-  बॉडी लोशन ,
  2. रैश क्रीम,
  3.  हेयर शैम्पू,
  4. बॉडी वॉश, 
  5.   डायपर रैश क्रीम इत्यादी शामिल है 

  मामाअर्थ का फाऊन्डर :- 
  मामाअर्थ कम्पनी की स्थापना 2016 में पति-पत्नी की जोड़ी, वरुण अलघ और उनकी पत्नी ग़ज़ल अलघ ने की थी। मामाअर्थ कंपनी का मुख्यालय गुड़गांव के हरियाणा में है। जो कि यह अग्रणी कंपनियों या ब्रांड में से एक है .  मामाअर्थ कम्पनी बेबी स्किन केयर ब्रान्ड जो कंपनी में चीफ मामा की प्रमुख भूमिका निभाती है.कंपनी की कुल संपत्ति आय लगभग वर्ष 2022 तक 115 करोड़ है .
 मामाअर्थ कम्पनी का कुछ विवरन :-
  1. कंपनी का नाम -  मामाअर्थ 
  2. स्थापना स्थान - भारत
  3. स्थापना तिथि - 2016
  4. संस्थापक(Founder) -  वरुण अलघ और  ग़ज़ल अलघ
  5. नेट वर्थ (2022 तक) - लगभग 115 करोड़ रुपये
  6. कंपनी की स्थिति - सक्रिय(Active)
  7. ईमेल(Email) - care@mamaearth.in
  8. वेबसाइट - www.mamaearth.in

 मामाअर्थ के ब्रांड एंबेसडर कौन हैं ?

मामाअर्थ के ब्रांड एम्बेसडर शिल्पा शेट्टी कुंद्रा है । मामाअर्थ के सभी प्रोडक्ट 100% केमिकल-मुक्त हैं। मामाअर्थ भारत में एकमात्र ऐसा “मेड सेफ” प्रमाणित टॉक्सिन-मुक्त ब्रांड है जो सभी ज्ञात विषाक्त पदार्थों से मुक्त है जो अधिकांश देशों में प्रतिबंधित होता है ।