Share whatsapp Facebook Linkedin Twitter

बिहार की राज्य सरकार ,”छात्र छात्राओं के लिए स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड में बदलाव।“ विदेश में पढ़ाई के लिए मिलेगा लाभ|"

"राज्य सरकार अब छात्र छात्राओं को विदेश में पढ़ने के लिए चार लाख तक का ऋण देगी  इसके अलावा आईआईटी, आईआईएम, एनआईटी जैसी राष्ट्रीय स्तर पर महत्वपूर्ण संस्धानो में पढ़ने के लिए राज्य के सभी छात्र-छात्राओं  को स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के द्वारा चार चार लाख रुपए  देने की सीमा को निर्धारित करने का निर्णय लिया गया है|"

2022-09-26 17:06:46

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना का महत्वपूर्ण बिंदु।

1.       अगर स्टूडेंट समय से पहले ऋण  चुका देते हैं तो ब्याज की दर से 0.25  की छूट मिलेगी।

2.       दो लाख रुपए ऋण के ज्यादा से ज्यादा 60 माह तक देने होंगे और दो लाख से ऊपर ऋण पर ज्यादा से ज्यादा 84 माह तक दे देना होगा।

3.       सभी छात्र छात्राओं के लिए ऋण  का  वार्षिक ब्याज दर 4 प्रतिशत होंगे।

4.       ये छात्र छात्राओं को मिल सकेगा स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड का लाभ।

5.       इस योजना का लाभ उन छात्र-छात्राओं को मिलेगी जो बिहार के निवासी हो।

6.       राज्य के शिक्षा संस्थान और सीमावर्ती राज्य के संस्थान से 12वीं पास हो।

7.       आवेदक की उम्र ज्यादा से ज्यादा 25 वर्ष  हो।

8.       और स्नातकोत्तर के लिए ज्यादा से ज्यादा 30 वर्ष  तक के लिए है।

                  9.     बिहार या दूसरे राज्य और केंद्र सरकार से मान्यता प्राप्त  संस्थाओं में नामांकन हो या नामांकन के लिए चुने गए हो।

ऐसे विद्यार्थी को चार चार लाख से अधिक ऋण मिल सकता है मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शिक्षा विभाग के समीक्षा बैठक में यह निर्णय किया गया है की योजना से जल्द ही संशोधन कर दिया जाएगा राज सरकार ने विषयकर्म के अनुसार लेन कैंपिंग करने का निर्णय दिया है इसके लिए मास्टर सूची नया पाठ्यक्रम को सम्मिलित करने के लिए कहां है। और मुख्यमंत्री ने ऋण स्वीकार और वितरण की प्रक्रिया को और आसान बनाने का काम विभाग को दे दिया।