hindwatch@gmail.com

Share whatsapp Facebook Linkedin Twitter

गौतम अडानी कौन हैं , कैसा बिजनेस (business) करते हैं, घर परिवार , कम्पनी , कुल सम्पत्ती कितनी है ?


गौतम अडानी एक भारतीय बिजनेसमैन (business man) हैं . गौतम अडानी का जन्म 24 जून 1962, अहमदाबाद, गुजरात में मध्यवर्गीय जैन परिवार में हुआ था . गौतम अडानी के पिता का नाम शान्तीलाल अडानी और माता का नाम शान्ताबेन अडानी था .  गौतम अडानी कि पत्नी का नाम प्रिति अडानी है . 

गौतम अडानी का घर (House of Gautam Adani) :-

गौतम अडानी ने लुटियंस दिल्ली में 2020 में एक 400 करोड़ रुपया की हवेली खरीदी है. जो कि 3.4 एकड़ भूमि में फैली हुई है. गौतम अडानी को घर खरीदते समय 265 करोड़ रुपए का एडवांस भुगतान करना पड़ा था . और बाकी के 135 करोड़ किसी अन्य खर्च के रूप में हुआ था . इससे संपत्ति का मूल्य 400 करोड़ रुपया हो गया. गौतम अडानी के पास एक बंगला भी है , जो कि गुड़गांव में  है. गौतम अडानी के पास इतना ही नहीं बल्कि अहमदाबाद में उनका एक घर भी है , जो कि वो भी एक  'हवेली' से कम नहीं है. यह वह जगह है जहां गौतम अडानी ज्यादा समय से रहते आएं है .  इस हवेली को चारों ओर बड़े- बड़े पेड़ों से सजाया गया है. यह खुले सुंदर प्रांगणों से भी घिरी हुई है. इस घर में गौतम अडानी अपनी पत्नी प्रीति अडानी तथा बेटे करण और जीत अडानी और बहू के साथ रहते हैं.

गौतम अडानी का बिजनेस (business of Gautam Adani) :- 

गौतम अडानी ने अपने बिजनेस (business) की शुरुआत 1988 में सिर्फ  5 लाख रुपये से की कम्पनी से की थी . भारत के प्रमुख उद्योगपतियों में से एक है गौतम अडानी  इनका जीवन का शुरुआती दौर उतना भी असान नहीं था . जितना  के आज पुरे विश्व (world) मे सफलता की गुंज -गूंज रही है . गौतम अडानी ने अपने संघर्ष के बल बूते अपना विशाल व्यावसायिक साम्राज्य (Empire) खड़ा किया है . गौतम अडानी ने बिजनेसमैन(business man)  बनने की चाहत में कॉलेज की पढ़ाई अधुरी ही छोड़ दी थी . अडानी पावर की शुरुआत 22 अगस्त 1996 को हुइ थी . अडानी अपने कई उपक्रमों के साथ रिन्यूएबल एनर्जी का एक प्रमुख उत्पादक बनने का लक्ष्य लेकर चल रहे है. अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड को भारत की सबसे बड़ी नवीकरणीय कंपनियों में से एक होने का दर्जा मिला है. अभी इसके पास 20,434 मेगावाट का प्रोजेक्ट पोर्टफोलियो है. 
 इस करोबाड़ में गौतम अडानी ने अपना पहला कदम  रखा , जब  गौतम अडानी की पहली कम्पनी अडानी एक्स्पोर्ट (Adani Exports) की शुरुआत हुई थी . और फिर गौतम अडानी ने धीरे-धीरे बहुत बड़ा सम्राज्य बना डाला .

कम्पनी  (Company) :-

1994 में जब अडनी समुह (Adani Group) की फ्लैंगशिप कम्पनी  अडानी इन्टरप्राइजेज लिमिटेड (Adani Enterprises limited)  शेयर को बाजार में उतारने का औफर मिला था . तब में भारत के वित्त  मंत्री मनमोहन सिंह ने भारत के आर्थिक स्थिति सुधार के लिये रास्ता तैयार किया था .  तो इस से देश के  कई सारे करोबार जगत के व्यापक मे सुधार आया था . एशिया के अरबपती गौतम अडानी के अडानी समुह (Adani Group) की कम्पनियां कुछ दिनों में अपने निवेशकों के लिए गजब तरीके से रुपया कमा रही हैं।  इन कम्पनियों के शेयरों में तेजी देखने को मिली है। वो भी ऐसे समय में जब रूस यूक्रेन वॉर के कारण सप्लाई की कमी के कारण बाजार बहुत इस्थिर रहा है, ऐसे कई जगहों पर महंगाई के कारण फ्यूल  की कीमतें रही है। इन सभी  चिजों के बाद भी अडानी समुह (Adani Group) की लगभग सभी छ: कम्पनियों का शेयर ऊपर जा रहे हैं।इसलिये अडानी पावर (Adani Power) और अदाणी विल्मर (Adani Wilmar )ने साल 2022 के पहले तीन महीनों में निवेशकों का किमत कई गुना ज्यादा बढा दिया है।

कुल सम्पत्ती  (Net worth) :-

गौतम अडानी जो कि अडानी समुह (Adani Group) के  चेयरमैन हैं . 10.2 हजार करोड़ डॉलर (7.89 लाख करोड़ रुपये) की संपत्ति के साथ दुनिया के पांचवे और एशिया के सबसे अमीर शख्स मे से एक हैं. इस साल बाजारों(Markets) के उतार-चढ़ाव के बीच गौतमअडानी की सम्पत्ती बफेट के मुकाबले 9 गुना से अधिक यानी 2550 करोड़ डॉलर (1.97 लाख करोड़ रुपये) बढ़ी गयी है .

अडानी समुह के स्टाॅक मार्केट के लिस्ट में इस समय 6 कम्पनियां हैं ( In the stock market list 6 companies are available in this time of Adani Group) ;

  1. अडानी ट्रांसमिशन (Adani Transmission) ,
  2. अडानी ग्रीन एनर्जी (Adani Green Energy) ,
  3. अडानी पावर (Adani Power ) ,
  4. अडानी कुल गैस (Adani total  Gas) ,
  5. अडानी पोर्ट्स (Adani Ports) ,
  6. अडानी विल्मर (Adani Wilmar) ,
  गौतम अडानी  को इन शेयरो में आई तिव्रता कि वजह से भारत का सबसे अमीर व्यक्ति बना दिया है।  जिससे  गौतम अडानी विश्व के सबसे अमीर उद्यमियों के 100 अरब डॉलर के क्लब में शामिल हो गए हैं जो       काफी समय  से भारत के ही नहीं बल्कि एशिया के सबसे अमीर कारोबारी बन चुके हैं ।