Print Friendly, PDF & Email



बॉलीवुड के मशहूर काॅमेडियंस विनय पाठक और मनोज पाहवा अपने आगामी कॉमेडी फ्लिक ‘खजूर पे अटके’ के साथ लोगों का मनोरंजन करने के लिए तैयार हैं। हाल ही में, दोनों कलाकार अपनी इसी फिल्म के प्रचार के सिलसिले में राष्ट्रीय राजधानी में थे। उनके साथ फिल्म के निर्देशक हर्ष छया और निर्माता अमृत सेठिया भी उपस्थित थे। होटल ललित में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पूरी टीम इस फिल्म की कामयाबी को लेकर न केवल बेहद सकारात्मक लग रही थी, बल्कि उन्होंने मीडिया के साथ फिल्म को लेकर काफी बातचीत भी की।

चूंकि यह हर्ष छाया की बतौर डयरेक्टर पहली फिल्म है, इसलिए वह अपनी इस फिल्म के लिए कुछ ज्यादा ही उत्साहित थे। मीडिया के साथ बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘यह मेरी पहली लिखित और निर्देशित पहली फिल्म है। मैं पहले एक अभिनेता हूं, लेकिन जहां तक डायरेक्शन की बात है, तो यह एक अलग दुनिया है। इस फिल्म के लिए काम करते समय मुझे एक निर्देशक और एक अभिनेता के बीच एक बड़ा अंतर महसूस हुआ।

मैंने सीखा कि एक डायरेक्टर को कैसे सौ लोगों के साथ मिलकर काम करना होता है। यह वास्तव में एक बेहतरीन अनुभव था, क्योंकि हमारे पास विनय पाठक, मनोज पाहवा जैसे दिग्गज कलाकारों के साथ कई अन्य प्रतिभाशाली कलाकार भी हैं। ऐसी टीम के साथ काम करने का मेरा अनुभव बेहद सरल रहा, क्योंकि हम लंबे समय से एक-दूसरे से जानते हैं।’ हर्ष छाया ने आगे कहा, ‘‘खजूर पे अटके’ महान कलाकारों को साथ लेकर बनी एक संतुलित, पारिवारिक और मनोरंजक फिल्म है। अब दर्शकों को यह फिल्म को कितना पसंद आती है, यह 18 मई के बाद ही तय होगा।’

दूसरी तरफ विनय पाठक ने कहा, ‘हमारी यह फिल्म 18 मई को रिलीज हो रही है। हम चाहते हैं कि आप सभी इस फिल्म को देखें। यह एक छोटी सी फिल्म है, इसलिए इसका हम बड़े पैमाने पर प्रचार नहीं कर रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद हमें यकीन है कि यह फिल्म हर किसी का पूरा मनोरंजन करेगी। और, इसके साथ ही हमें यह भी यकीन है कि सभी लोग अपने जीवन को ‘खजूर पे अटके’ से जोड़ कर जरूर देखेंगे।’

यह भी पढ़ें :  लगातार दूसरे साल क्वांटिको के लिए प्रियंका चोपड़ा को मिला पीपुल्स च्वाइस अवॉ

अपने अनुभव के बारे में उन्होंने कहा, ‘मुझे इस परिवार आधारित फिल्म का हिस्सा बनने का एक अच्छा अनुभव रहा। चूंकि, पूरी कास्ट के बारे में हमें पहले से ही पता थी, इसलिए हमारे पास एक दूसरे का बेहतरीन साथ निभाने का भी अद्भुत समय था।’ अपने किरदार के बारे में विनय पाठक ने कहा कि वह फिल्म में रविंदर की भूमिका में नजर आएंगे, जो परिवार में सबसे छोटे भाई हैं और काफी शांत और खुदगर्ज है।

जब वह परिवार के एक सदस्य की अचानक हुई मौत को देखता है, तो अपनी बचकानी हरकतों को छोड़ देता है। लेकिन, इन सब के बीच कुछ परिस्थितियां ऐसी बन जाती हैं, जिसके कारण काफी मजाकिया और हास्यमय माहौल बन जाता है, जो दर्शकों को काफी हद तक लुभाएगा।

वहीं, मनोज पहवा ने कहा, ‘यह एक पारिवारिक फिल्म है, जो परिवार के हर सदस्य से संबंधित है, क्योंकि इसमें बताया गया है कि एक समस्या के कारण उन सबको किस तरह परेशान होना पड़ता है। इस फिल्म में एक गंभीर स्थिति को बेहद मजेदार तरीके से चित्रित किया गया है। इस फिल्म को देखते हुए पूरा मजा आएगा।’

दरअसल, ‘खजूर पे अटके’ मौत के चारों ओर बुनी गई एक कॉमेडी फिल्म है, क्योंकि इस फिल्म की कहानी एक मध्यमवर्गीय परिवार की है, जिसका सबसे बुजुर्ग सदस्य आईसीयू में भर्ती है। ऐसी संभावना है कि वह मर सकता है।

लेकिन, परिवार के युवा सदस्य एक युवती का आइटम डांस देखने में मशगूल हैं, जबकि बाकी सदस्य हॉस्पिटल में बैठे हुए बुजुर्ग की मौत का इंतजार कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें :  साइबर बुलिंग से परेशान एक्ट्रेस

वेलकम फ्रेंड्स प्रोडक्शंस द्वारा निर्मित और एसओआईआईई द्वारा प्रस्तुत इस फिल्म में विनय पाठक एवं मनोज पाहवा के अलावा डॉली अहलूवालिया, सीमा पाहवा, सनाह कपूर, सुनीता सेनगुप्ता जैसे कलाकार भी नजर आएंगे; फिल्म 18 मई को रिलीज होगी।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
loading...