(भालू के हमले में घायल महिला को इलाज के लिए ले जाते ग्रामीण) (तस्वीर : हिंद वॉच मीडिया)
Print Friendly, PDF & Email



ग्रास रूट रिपोर्टर किशन कुमार दत्ता की रिपोर्ट

सोनाहातू : भालू के रिहायसी इलाकों में घुसकर लोगों पर हमला करने की घटना घटना सोनाहातू प्रखंड के हारिन, चोगा, साइलबाँदा, सरयाद एवं दिरसिर गांव की है। सुबह करीब 6-7 बजे लोग कामकाज करने घर से बाहर निकले थे, तभी अचानक भालू ने उनपर हमला कर दिया। भालू के इस हमले में सालबंदा निवासी करुणा देवी (40 वर्ष), दिरसिर निवासी रोपनी देवी (50 वर्ष), सरयाद निवासी अनूप मांझी (45 वर्ष), हारिन निवासी महिराम महतो (60 वर्ष) एवं 11 वर्षीय चोगा निवासी चंद्रमोहन महतो गंभीर रूप से घायल हो गए।

घायल चंद्रमोहन कोईरी को इलाज के लिए रिम्स (रांची) भेज दिया गया है, जबकि एक अन्य घायल महिराम महतो का इलाज सिल्ली के एक निजी क्लिनिक चल रहा है। अन्य घायलों का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनाहातू में चल रहा है। अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि हमलावर भालू कहाँ से आया था? हमला करने के बाद जब स्थानीय लोगों ने शोर मचाया तब भालू मुरुखड़ीह वन की ओर भाग गया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनाहातू में डॉक्टर द्वारा घायलों का इलाज किया जा रहा है। घायलों में चंद्रमोहन महतो की स्थिति गंभीर बतायी जा रही है। आजसू नेता संजय महतो ने घायलों का हाल जानने के लिए चंद्रमोहन महतो को रिम्स भेजा है। घायल हुए सभी लोग खेती-बाड़ी का कार्य करते है। पीड़ित लोगों ने वन विभाग से मुआवजे की माँग की है। ख़बर के लिखे जाने तक वन विभाग या प्रशासन की तरफ से किसी अधिकारी का बयान इस घटना पर नहीं आया है।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓

यह भी पढ़ें :  फरार बाबा का वकील भी घटिया सोच का, बोला नारी नरक का द्वार, जज ने कहा गेटआउट