Print Friendly, PDF & Email

लखनऊ, उत्तर-प्रदेश
त्तर प्रदेश विधान परिषद के सभापति रमेश यादव के छोटे बेटे अभिजीत यादव की हत्या का मामला अब खुलता जा रहा है। हत्या के आरोप में पुलिस ने अभिजीत की मां मीरा यादव को गिरफ्तार कर लिया है, और सूत्रों की मानें तो उन्होंने अपना गुनाह कबूल भी कर लिया है। अभिजीत यादव की मां मीरा ने पुलिस हिरासत में कबूला है कि उसने ही अपने बेटे की हत्या गला दबाकर की।

मीरा ने बताया कि अभिजीत जब नशे में था, वह उनसे बदतमीजी कर रहा था और उसने उन्हें मारने की भी कोशिश की। मीरा यादव ने बताया कि अपना बचाव करने के लिए उन्होंने वापस अभिजीत को मारा, इसके बाद अपनी ‘चुन्नी’ से उसका गला ही दबा दिया। मीरा यादव ने पुलिस को बताया कि अभिजीत को मारने के बाद उसने अपनी चुन्नी को जला दिया।

बता दें कि अभिजीत यादव की रविवार को हजरतगंज आवास पर संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। जिसके बाद हड़कंप मच गया था। पहले तो परिवार वाले घटना पर परदा डालने की कोशिश रहे थे। उनलोगों ने बताया कि सीने में दर्द से मौत हुई, जबकि शव के पोस्टमार्टम के बाद चौंकाने वाला खुलासा हुआ था।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला घोंटकर हत्या की पुष्टि हुई थी. सिर पर चोट के निशान पाए गए थे कुल पांच डॉक्टरों के पैनल ने शव का पोस्टमार्टम किया था। घटना के बाद परिजन जहां सीने में दर्द के कारण स्वाभाविक मौत बता रहे थे, वहीं मामला संदिग्ध जानकर पुलिस ने पूछताछ शुरू कर दी। परिवार लगातार पुलिस को गुमराह करता रहा।

एसएसपी लखनऊ की मौजूदगी में ही परिवार वाले शव को अंतिम संस्कार के लिए लेकर चले गए थे। मगर बाद में पुलिस के आला अफसरों की दखल के बाद शव को अंतिम संस्कार से रोक दिया गया था। फिर पोस्टमार्टम कराया गया तो गला दबाकर हत्या की पुष्टि हुई।

रमेश यादव के छोटे बेटे अभिजीत उर्फ विवेक का शव दारुल शफा के डी ब्लॉक स्थित कमरा नंबर 28 में पाया गया। कमरे में मां और भाई भी मौजूद थे। परिवारीजन दावा कर रहे हैं कि रात में सोते वक्त अभिजीत के सीने में तेज दर्द था। इसके बाद वह सो गया और सुबह वह बिस्तर पर मृत पाया गया।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓