Print Friendly, PDF & Email



सिकन्द्राराऊ- कोतवाली क्षेत्र के गांव नगला विजन स्थित बम्बे के समीप कृत्रिम पनीर, दूध व मावा बनाने की फैक्ट्री पर एसडीएम व खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने संयुक्त रूप से छापा मारा गया। छापेमार कार्यवाही से फैक्ट्री संचालकों में हड़कम्प मच गया। टीम ने भारी मात्रा में फैक्ट्री से कृत्रिम दूध, मावा व पनीर को बरामद किया है। वही टीम ने मौके से कृत्रिम दूध, मावा, पनीर बनाने के केमिकल्स भी बरामद किए हैं। टीम ने फैक्ट्री को सील कर दिया है।

बताया जाता है कि आज खाद्य सुरक्षा अधिकारी हरित सिंह व राकेश कुमार को जरिए मुखबिर सूचना मिली कि गांव नगला विजन स्थित बम्बे के पास एक कृत्रिम दूध, मावा एवं पनीर बनाने की फैक्ट्री संचालित हो रही है जिसको इम्तियाज अली निवासी विजयगढ अलीगढ़ एवं जय प्रकाश पुत्र ओम प्रकाश निवासी गांव नगला विजन संचालित कर रहे हैं। टीम ने सूचना एसडीएम जोत्सना बंधु को दी। सूचना पर एसडीएम एवं खाद्य सुरक्षा टीम ने संयुक्त रूप से छापा मारा।

छापेमार कार्यवाही से फैक्ट्री संचालकों में हड़कम्प मच गया और टीम को देख फैक्ट्री में भगदड मच गई। टीम ने फैक्ट्री में तैयार किया हुआ कृत्रिम दूध, मावा, पनीर को कुन्तलों की मात्रा में बरामद किया है।

फैक्ट्री में कृत्रिम दूध, मावा एवं पनीर बनाने के केमिकल्स व सामग्री भी भारी मात्रा में बरामद की है। टीम ने कृत्रिम दूध पनीर, मावा के नमूने भी लिए हैं जिनको जांच के लिए लैब को भेजा जाएगा। वही फैक्ट्री में तैयार कृत्रिम दूध, मावा एवं पनीर के नमूने भरकर टीम ने उनको नष्ट किया है। टीम ने फैक्ट्री संचालक जय प्रकाश समेत दो लोगो को मौके पर पकड़ा है।

यह भी पढ़ें :  शराबबंदी के बाद बिहार में दूध और शहद की बिक्री बढ़ी

बताया यह भी जाता है कि यह फैक्ट्री जिस स्थान पर संचालित हो रही थी उसको कामधेनु योजना के अंतर्गत डेरी के लिए तैयार किया गया था। कामधेनु योजना के माध्यम से मिलने वाली धनराशि का लाभार्थी ने दुरुपयोग किया है। धनराशि को हजम करने को लाभार्थी ने डेरी को तैयार करा दिया और उसको किराये पर उठाकर कृत्रिम पनीर, दूध, मावा को तैयार किया जा रहा था।

टीम ने जब छापेमारी की तो फैक्ट्री में बहुत बुरी दुर्गन्ध उठ रही थी और कृत्रिम दूध, मावा, पनीर पर भारी संख्या में मक्खियां भी भिनक रही थी। वही एसडीएम ने बताया है कि जिस व्यक्ति ने कामधेनु योजना के अंतर्गत धनराशि को प्राप्त किया है उसके खिलाफ भी सख्त कार्यवाही अमल में लाए जाएगी। लाभार्थी ने सरकारी धन का दुरुपयोग किया है।

उक्त सम्बंध में एसडीएम ज्योत्सना बंधु का कहना है कि खाद्य सुरक्षा टीम को आज सूचना मिली थी कि गांव नगला विजन में कृत्रिम दूध, मावा एवं पनीर की फैक्ट्री संचालित हो रही है। फैक्ट्री पर छापामारा गया तो वहाँ भारी मात्रा में तैयार कृत्रिम दूध, मावा, पनीर मिला है और साथ ही इनको तैयार करने वाले केमिकल्स, पाउडर, पामोइल आदि सामग्री को भी बरामद किया गया है।

दूध, मावा, पनीर के नमूने भरकर जांच को लैब में भेजे जाएंगे। मौके पर दो लोगो को भी पकड़ा गया है। आरोपी के खिलाफ धारा 272 एवं 273 के अंतर्गत सख्त कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓