वैसे तो यह आमतौर पर माना जाता है कि चाय पीना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक नहीं है। एक तरह से इसे निकोटिन जैसा पेय माना गया है जो लत बनकर सेहत को नुकसान पहुंचाता है।

लेकिन एक शोध ऐसी भी आई है जो यह कहती है कि चाय पीना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। भारत में चाय से ही लोगों के दिन की ख़ास शुरुआत होती है। इसलिए यह एक तरह का देसी पेय है जो न सिर्फ तारोताजा रखता है बल्कि रचनात्मक क्षमता भी बढ़ाता है।

आपको बता दें कि चाय दुनिया भर में सबसे ज्यादा पिए जाने वाले पेय पदार्थों में से एक है।

लेकिन एक नई रिसर्च कहती है कि चाय पीने से लोगों की मानसिक एकाग्रता और रचनात्मकता भी बढ़ती है।

गौरतलब है कि यह शोध चीन में हुआ है। चीन की पीकिंग यूनिवर्सिटी में हुए इस शोध में औसतन 23 साल की उम्र के तकरीबन 50 विद्यार्थियों को शामिल किया गया था।

शोध से प्राप्त निष्कर्षों के मुताबिक चाय पीने के कुछ ही देर के भीतर उसके सकारात्मक प्रभाव दिखाई देने लगते हैं। थियानिन और कैफीन से भरपूर चाय एकाग्रता बढ़ाने के अलावा व्यक्ति की संज्ञानात्मक क्षमता को दुरुस्त करने का भी काम करता है।

अगर यह शोध सही है तो आप भी आज से ही चाय पीना शुरु कर दीजिए। इस से दो फायदे होंगे। पहला यह कि आपका दिन फ्रेश रहेगा और दूसरा यह कि आप की क्रिएटिविटी भी बढ़ेगी।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
data-matched-content-ui-type="image_card_stacked"

Print Friendly, PDF & Email
यह भी पढ़ें :  मोदीराज में भारत के शिक्षण संस्थानों का तेजी से हुआ भगवाकरण