Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली
सुप्रीम कोर्ट ने राम जन्मभूमि मामले की जल्द सुनवाई करने की अखिल भारतीय हिंदू महासभा की मांग को खारिज कर दिया। मुख्य न्यायाधीश ने कहा कि हम इस मामले की तारीख पहले ही दे चुके हैं। आपको बता दें कि हिंदू महासभा ने अपनी अपील में कहा था कि जनभावनाओं को ध्यान में रखते हुए इस मामले की शीघ्र सुनवाई की जाए।

ज्ञात रहे राम मंदिर के मुद्दे पर पिछली सुनवाई के दौरान केवल 3 मिनट के अंदर ही कोर्ट ने 2019 जनवरी तक सुनवाई टाल दी थी।

आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के तीन जजों की बेंच ने मामले की सुनवाई करते हुए मामले को जनवरी 2019 तक टाल दिया था। इस बेंच में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के अलावा जस्टिस कौल और जस्टिस केएम जोसेफ शामिल थे।

फैसले के बाद बीजेपी नेताओं ने इस पर निराशा जताई थी। बीजेपी नेता विनय कटियार ने कहा, ये कांग्रेस के दबाव में लेट किया जा रहा है। कपिल सिब्बल समेत कांग्रेस के जो वकील हैं, वो नहीं चाहते कि 2019 से पहले इनकी सुनवाई हो, वो इसे टालना चाहते हैं।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓