Print Friendly, PDF & Email

मतौर पर पालक को केवल हिमोग्लोबिन बढाने वाली सब्जी माना जाता है। बहुत कम लोग जानते हैं, कि इसमें इसके अलावा भी बहुत से गुण विद्यमान है। पालक में कैलोरी, प्रोटीन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, फैट और खनिज लवण होता है। साथ ही पालक में विभिन्न खनिज लवण जैसे कैल्शियम, आयरन तथा विटामिन ए, बी, सी आदि प्रचुर मात्रा में पाया जाते हैं। तो आइये हम आपको पालक के कुछ ऐसे ही अद्धतु गुणों के बारे में बताते हैं उसके पश्चात आप जान सकेंगे कि आप पालक क्यों खायें।

पालक के रस में गाजर का रस मिलाकर पीने से चर्बी कम होने लगती है या फिर पालक के रस में नींबू का रस मिलाकर पीने से मोटापा दूर होता है।

ताजा हरा पालक एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों, विशेष रूप से विटामिन सी और बीटा कैरोटीन से भरपूर होता है जो हृदय स्वास्थ्य को बढावा देता है। एंटी-ऑक्सिडेंट, कोलेस्ट्रॉल के हानिकारक ऑक्सीकरण को रोकते हैं।

पालक स्वास्थ्य के लिए ही नहीं बल्कि बालों के लिए भी बहुत अच्छा होता है, जो लोग बाल गिरने की समस्या से परेशान हैं उन्हें पालक को अपने नियमित आहार में शामिल करना चाहिए। क्योंकि पालक शरीर में आयरन की कमी को पूरा करके बालों को गिरने से रोकता है।

पालक का सेवन करने से हृदय रोग में भी फायदा होता है। इसके लिए आधा चम्मच चौलाई का रस, एक चम्मच पालक का रस और एक चम्मच नींबू का रस तीनों को मिलाकर सुबह नियमित रूप से सेवन करने से हृदय रोगी को लाभ होने लगेगा।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓