ज्यादा दिन नहीं हुए जब यशवंत सिंह ने पीएम मोदी पर मुलाकात के लिए समय न देने आरोप लगाते हुए पार्टी को लेकर भी कई बातें की थीं। कुछ इसी तरह की बात दोहराई है अब सांसद रह चुके अभिनेता मोहन बाबू ने।

बता  दें कि दक्षिण की फिल्मों के सुपरस्टार एम मोहन बाबू एक कार्यक्रम के दौरान देश की राजनीति को लेकर बेहद तल्ख नजर आएं और 95 फीसदी नेताओं को धूर्त करार दे दिया। उन्होंने नेताओं पर वायदे न निभाने का आरोप लगाया।

उन्होंने नेताओं पर वायदे न निभाने का आरोप लगाया और कहा कि अगर नेता अपने कहे पर अमल करते तो आज भारत बेहतर जगह होता।

मोहन बाबू ने यह भी कहा कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब उनसे एक बार मिले थे, तब लेकर अब तक वह प्रधानमंत्री कार्यालय को चार बार चिट्ठी लिख चुके हैं, लेकिन पीएम से उनकी मुलाकात नहीं हो पाई।

उन्होंने कहा कि पीएम के अफसर रटा-रटाया जवाब देते हैं। वहीं उनकी बेटी लक्ष्मी ने कहा कि उनके पिता किंग नहीं हैं, बल्कि किंग मेकर की भूमिका में हैं।

दक्षिण में मोदी की राजनीति के सफल होने के सवाल पर मोहन बाबू ने कहा कि अभी चुनाव को दो साल हैं, मोदी पास काम करने के लिए पर्याप्त समय है।

गौरतलब है कि मोहन बाबू दक्षिण की फिल्मों में नायक और खलनायक दोनों की भूमिका में नजर आते रहते हैं। वह राज्यसभा सांसद भी रह चुके हैं। जरा सोचिए जब एक नेता को यह कहना पड़ रहा है तो हालात कितने संगीन होंगे।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
data-matched-content-ui-type="image_card_stacked"

Print Friendly, PDF & Email
यह भी पढ़ें :  भाजपा नेता का शर्मनाक बयान