Print Friendly, PDF & Email

पार्टी की कमान संभालने के बाद से ही राहुल गांधी बतौर विपक्ष आक्रामक तेवर अपना रहे हैं। उन्हें जब भी मौका मिलता है भाजपा को खरी खरी सुनाने से पीछे नहीं रहते।

अब चूंकि चुनावी माहौल है और भाजपा और कांग्रेस अपने अपने अंदाज में चुनावी रैलियां कर रहे हैं। गौरतलब है कि चुनावी राज्य मेघालय के दौरे पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक जनसभा में भारतीय जनता पार्टी पर गंभीर आरोप लगाए।

उन्होंने कहा कि राज्य में बीजेपी ने यहां के चर्चों को करोड़ों रुपये का ऑफर दिया है। बीजेपी चर्च, धर्म और गॉड को खरीदना चाहती है जो घिनौना है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने मेघालय की जनता से कांग्रेस को एक बार फिर सत्ता में लाने की अपील की।

राहुल गांधी ने कहा, ‘बीजेपी यहां आई और मेघालय के चर्चों को करोड़ों रुपये का ऑफर दिया। इसी तरह से वह सोचती है कि कांग्रेस के विधायकों को खरीदा जा सकता है और यहां सरकार बनाई जा सकती है।’

मेघालय में दिवंगत पीए संगमा की पार्टी नैशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) और बीजेपी से कांग्रेस को तगड़ी चुनौती का सामना करना पड़ रहा है।

हालांकि पिछले आठ सालों से सत्ता में काबिज मुख्यमंत्री मुकुल संगमा को पूरा भरोसा है कि उनकी पार्टी फिर से सत्ता में आएगी।

मुकुल संगमा के आत्मविश्वास को छोड़ दें तो वर्ष 2016 में हुए तूरा लोकसभा उपचुनाव में एनपीपी ने उन्हें तगड़ा झटका दिया था।

अब देखना यह होगा कि चुनावी बिसात पर कांग्रेस और भाजपा में कौन बाजी मारेगा। आशा है कि राहुल पिछले चुनावों की तरह भाजपा को यहां भी कड़ी टक्कर देंगे।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓