Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली
जारों किसान भारतीय किसान क्रांति यात्रा के तहत दिल्ली कूच कर गए हैं। हालांकि, किसानों को दिल्ली में दाखिल होने की इजाजत नहीं दी गई है, लेकिन वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने की जिद्द पर अड़े हैं। किसानों के रोष को देखते हुए दिल्ली-यूपी बॉर्डर को सील कर दिया गया है और सुरक्षाबलों को तैनात कर दिया गया है। पूर्वी दिल्ली में धारा-144 भी लागू कर दी गई है।

वहीं किसानों ने जबरदस्ती दिल्ली में घुसने की कोशिश की और पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड्स पर ट्रेक्टर चढ़ा दिया। जिससे पुलिस ने किसानों पर लाठीचार्ज और पानी की बौछार के साथ ही आंसू गोले भी छोड़े। उल्लेखनीय है कि किसान कर्ज माफी और बिजली बिल के दाम कम करने जैसी मांगों को लेकर क्रांति यात्रा कर रहे हैं।

यह यात्रा 23 सितंबर को हरिद्वार से शुरू हुई थी, जिसके बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर और मेरठ जिलों से होते हुए सोमवार को गाजियाबाद तक पहुंची है। अब किसान दिल्ली में दाखिल होने पर अड़े हैं। दरअसल, किसान गांधी जयंती के मौके पर राजघाट से संसद तक मार्च निकालना चाहते हैं।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓