Print Friendly, PDF & Email

पलामू, झारखंड
जिले में पुलिस द्वारा नक्सलियों के खिलाफ चलाये जा रहे सर्च अभियान में मनातू थाना क्षेत्र के धूमखांड़ स्थित पहाड़ी क्षेत्र के आस-पास छिपा कर रखी गयी पांच राइफल और 153 गोलियां बरामद की है। यह जानकारी जिले के पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत महथा ने शनिवार को अपने कार्यालय में प्रेस वार्ता कर बताया। यह क्षेत्र पड़ोसी राज्य बिहार की सीमा और चतरा जिले से सटा हुआ है।

मनातू थाने से इसकी दूरी करीब 15 किलोमीटर है और यह उरूर-सरइया मार्ग पर स्थित है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हाल के दिनों में गिरफ्तार नक्सलियों से उन्हें सूचना मिली थी कि घूमखांड़ स्थित विद्यालय के उत्तरपूर्वी पहाड़ी पर माओवादियों द्वारा हथियार छिपाकर रखे गये हैं।

सूचना पर मनातू थाना पुलिस और सीआरपीएफ 134 बटालियन के जवानों ने सर्च अभियान चलाया। इस दौरान पहाड़ी पर पत्थरों के बीच प्लास्टिक की तिरपाल में सुरक्षित ढंग से छिपाकर रखे गये हथियार और कारतूस जब्त किये गये।
पुलिस अधीक्षक ने ये हथियार हार्डकोर नक्सली कुंदन यादव, अरविंद भुइयां या संदीप जी के दस्ते का होने की संभावना व्यक्त की है। उन्होंने कहा है कि चूंकि यह इलाका चतरा से सटा हुआ है। इसलिए यहां संदीप जी की गतिविधियां ज्यादा देखने को मिलती हैं।

ऐसे में ये हथियार संदीप जी के होने की संभावना ज्यादा है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष फरवरी में संदीप जी अपने दस्ते के साथ बुढ़ा पहाड़ जा रहा था। इस दौरान उसका सहयोगी कई हथियार लेकर भाग गया था। ये हथियार संदीप जी के दस्ते से चोरी गये हथियार भी हो सकते हैं। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓