Print Friendly, PDF & Email



हाथरस-पुलिस के प्रति अक्सर कर लोग अपना नजरिया ठीक नहीं रखते हैं और पुलिस प्रशासन व अफसरों की लापरवाही और गैर जिम्मेदारी की खबरे सामने आती हैं।

लेकिन इस मामले में ना ही पुलिस अधिकारियों ने घटना का खुलासा किया बल्कि ईनाम में मिलीे रकम को अनाथालय में अनाथ बच्चों को दान करके एक ऐतिहासिक मिसाल भी पेश की है।

और सामाजिक पुलिस का चेहरा पेश किया है। लाखों की चोरी की घटना के खुलासे के सात महीने बाद पूर्व केन्द्रीय मंत्री व सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामजीलाल सुमन ने आज एक लाख रुपये का ईनाम पुलिस अधीक्षक सुशील घुले व उनकी टीम को दिया गया और पुलिस कप्तान ने उक्त रकम को अनाथ बच्चों के लिए दान कर दिया।

उल्लेखनीय है कि सादाबाद क्षेत्र के गांव बहरदोई में पूर्व केन्द्रीय मंत्री व सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामजीलाल सुमन के घर से अक्टूबर 2017 में चोरी की घटना हुई थी और चोर घर में रखे 18 लाख रुपये करके ले गये थे।

सादाबाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर पुलिस टीम ने करीब दस दिन के अंदर ही चोरी का खुलासा ही नहीं किया बल्कि मुकदमे में दर्ज 15 लाख रुपये की बजाय 18 लाख रुपये बरामद किये थे। इस चोरी में पूर्व मंत्री के गांव के ही पांच लोग निकले। चार लोगों को पुलिस जेल भेज चुकी है। एक आरोपी आज भी फरार है।

उक्त घटना के खुलासे के बाद पूर्व केन्द्रीय मंत्री रामजीलाल सुमन, पूर्व विधायक देवेन्द्र अग्रवाल आज अपने तमाम कार्यकर्ताओं के साथ एसपी आफिस पहुंचे। वहां उन्होंने एसपी और एसओजी टीम का स्वागत किया और नगद पुरुस्कार के रुप में एक लाख रुपये का ईनाम दिया।

लेकिन एसपी सुशील घुले ने उक्त ईनाम राशि को अपनी टीम में बांटने की बजाय उसे माृत छाया साधना केन्द्र में पढने व रहने वाले अनाथ बच्चों के लिए दान कर दिये जिससे कि आश्रम में पढ़ रहे बच्चों की शिक्षा अच्छे ढंग से हो सके।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
loading...



SHARE
Previous articleआतंकवाद की किस्में (व्यंग्य)- राजकिशोर
Next articleपाकिस्तान में क्यों हुई बैन आलिया भट्ट की फिल्म ‘राजी’
नीरज चक्रपाणी उत्तर प्रदेश के हाथरस में सक्रीय पत्रकारिता कर रहे हैं। रिपोर्टिंग का लम्बा अनुभव रखने वाले नीरज ने अनेक प्रतिष्ठित मीडिया सस्थानों के साथ काम किया है। नीरज हिंद वॉच मीडिया के लिए हाथरस से नियमित तौर पर स्वतंत्र एवं स्वैच्छिक रूप से रिपोर्टिंग करते रहे हैं। सटीक, निर्भीक और प्रमाणिक जमीनी पत्रकारिता उनकी विशेषता है। हिंद वॉच मीडिया समूह जमीनी सरोकारों से जुड़ी जनपक्षधरता की पत्रकारिता कर रहा है। साप्ताहिक अखबार, न्यूज़ पोर्टल, वेब चैनल और सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से जमीनी और वास्तविक ख़बरों को निष्पक्षता और निडरता के साथ अपने पाठकों तक पहुंचाने के लिए हिंद वॉच मीडिया पूरी समर्पण से काम करता है। भारत और विदेशों में यह वेब पोर्टल पढ़ा जा रहा है।