Print Friendly, PDF & Email

जिला पुलिस और सीआरपीएफ-94बटालियन की संयुक्त छापेमारी में रनिया के कोटांगेर और गोहराम जंगल क्षेत्र में पीपुल्स लिब्रेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआइ) सुप्रीमो दिनेश गोप तथा कुज्जु गोप द्वारा संचालित मिनी गन फैक्ट्री पकड़ी गयी…

.

झारखण्ड से हिंद वॉच संवाददाता देवदर्शन बड़ाईक की रिपोर्ट।
खूंटी : पुलिस ने शुक्रवार (24 अगस्त) को कोटांगेर और गोहारोम के बीच जंगली क्षेत्रों सघन तलाशी के दौरान मिनी गन फैक्ट्री पकड़ी गयी। पुलिस के अनुसार, यह फैक्ट्री पीएलएफआई सुप्रीमो दिनेश गोप द्वारा संचालित की जा रही थी। पुलिस ने मौके से 30 अर्धनिर्मित देशी पिस्टल समेत काफी मात्रा में अवैध हथियार बनाने का सामान बरामद किया। इस संबंध में रनिया थाना में एफआईआर दर्ज की गई है।

एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा के निर्देश पर जिला पुलिस और सीआरपीएफ-94बटालियन की संयुक्त छापेमारी में रनिया के कोटांगेर और गोहराम जंगल क्षेत्र में पीपुल्स लिब्रेशन फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएलएफआइ) सुप्रीमो दिनेश गोप तथा कुज्जु गोप द्वारा संचालित मिनी गन फैक्ट्री का खुलासा किया है। बड़ी संख्या में अर्द्धनिर्मित पिस्टल और बंदूक बनाने की सामाग्री बरामदगी हुई है। छापेमारी में पुलिस को कोई भी अपराधी हाथ नहीं लग पाया है।

एसपी अश्विनी कुमार सिन्हा ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि पीएलएफआई उग्रवादी गुज्जू और दिनेश गोप दस्ता सदस्यों के साथ रनिया और गुमला के सीमावर्ती क्षेत्रों में घूम रहे हैं। सूचना मिलते ही सीआरपीएफ और जिला पुलिस के जवान मौके पर पहुंचे। कोटागेर और गोहारोम के जंगली क्षेत्रों में सघन तलाशी अभियान चलाया। उग्रवादियों की गिरफ्तारी तो नहीं हो सकी पर मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन कर लिया गया।

बरामद किए गए हथियारों और औजारों की संख्या सहित सूची :

  1. अर्धनिर्मत देशी पिस्टल – 30 पीस,
  2. पिस्टल बैरल – 36 पीस,
  3. पिस्टल ट्रिगर – 30 पीस,
  4. पिस्टन स्प्रिंग – 63 पीस,
  5. पिस्टल हैमर – 29 पीस,
  6. आयरन वाइस – 02 पीस,
  7. भट्‌ठी – 1,
  8. गैस सिलेंडर (5 किलोग्राम) – 1,
  9. गैस वेल्डिंग रॉडी – 1 पीस,
  10. हेक्सा ब्लेड – 10 पीस,
  11. लोहे की रेती – 2 पीस,
  12. पॉलिश मटेरियल – 1 किलोग्राम और
  13. थिनर – 2 किलोग्राम
इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓