आदिवासियों के लिए आयोजित यह चुम्बन प्रतियोगिता शनिवार की रात कड़ाके की ठण्ड में संपन्न हुई लेकिन इसने झारखण्ड का सियासी पारा चढ़ा दिया है। झामुमो विधायक साईमन मरांडी द्वारा आयोजित इस चुम्बन प्रतियोगिता को जहाँ स्थानीय लोग वोट बैंक की राजनीति बता रहे हैं, वहीं भाजपा ने इसे आदिवासी परम्परा और अस्मिता से खिलवाड़ बताया है।

ये भारत है अमेरिका नहीं और चुम्बन यहाँ सिर्फ शहरों में ही खुल्लम-खुल्ला किया जाता है, लेकिन जब यह कारनामा झारखंड के आदिवासी मेले में किया गया तो जाहिर है हंगामा तो होना ही था। दरअसल, भारत में अभी भे संस्कृति का झंडा उठाये एंटी रोमियो टाइप लोग हर जगह बैठे हैं, जहाँ भी कहीं प्यार मोहब्बत का खुलेआम इजहार होते देखते हैं, इनकी भौंहे चढ़ जाती है और नैतिकता का डंडा बाहर आ जाता है। क्या है पूरा मामला आइये समझते हैं।

झारखंड के पाकुड़ जिले में परंपरागत ग्रामीण मेले के दौरान आदिवासी दंपतियों के लिए चुंबन प्रतियोगिता आयोजित कर झारखंड मुक्ति मोर्चा के दो विधायकों ने विवाद पैदा कर दिया। राज्य में सत्ताधारी बीजेपी ने मांग की कि दोनों विधायकों को निलंबित किया जाए, क्योंकि उन्होंने स्थानीय संस्कृति का अपमान किया है। बहरहाल, प्रतियोगिता के आयोजक जीएमएम विधायक साइमन मरांडी ने कहा कि आदिवासी समाज में तलाक की बढ़ती संख्या पर लगाम लगाने के लिए चुंबन प्रतियोगिता आयोजित की गई। साइमन संथाल परगना के लिट्टीपारा से विधायक हैं।

पार्टी के विधायक स्टीफन मरांडी भी इस मेले में मौजूद थे। झारखंड की राजधानी रांची से करीब 400 किलोमीटर दूर संथाल परगना के झुमरिया गांव में मेले के दौरान कल रात कराई गई चुंबन प्रतियोगिता का विडियो आज सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। वीडियो में आदिवासी दंपतियों को चुंबन लेते देखा जा रहा है जबकि वहां मौजूद भीड़ तालियां बजा रही है।

यह भी पढ़ें :  मेहनत से उगाई सब्ज़ियां मुफ्त बाटने को मजबूर हैं किसान

बीजेपी की झारखंड इकाई के उपाध्यक्ष हेमलाल मुर्मू ने इस मुद्दे पर साइमन और स्टीफन को विधानसभा से निलंबित करने की मांग की । प्रदेश बीजेपी उपाध्यक्ष हेमलाल ने रांची में पत्रकारों को बताया, जेएमएम के विधायक साइमन मरांडी और स्टीफन मरांडी ने हुल मेला के नाम पर संथाल परगना की संस्कृति का अपमान किया है और चुबंन प्रतियोगिता का आयोजन किया है। हम मांग करते हैं कि सदन से उन्हें निलंबित किया जाए और उन्हें कल से शुरू हो रहे शीतकालीन सत्र में सदन की कार्यवाही में हिस्सा नहीं लेने दिया जाए।

चुम्बन प्रतियोगिता का वीडियो देखने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें :


स्लाइड शो 

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
data-matched-content-ui-type="image_card_stacked"

Print Friendly, PDF & Email