Print Friendly, PDF & Email

शशिकला जेल में थी लेकिन पति की मृत्यु के बाद उनके अंतिम संस्कार के लिए पेरोल पर बाहर निकली हैं। यह बात तो सब जानते हैं कि शशिकला जयललिता के काफी करीबी रही हैं।

ऐसे में उन्होंने जयललिता की मौत से कुछ समय पहले के कुछ खुलासे किए हैं, जिन्हें सुनकर उस वक़्त उनकी तबियत का अंदाजा लगता है।

दरअसल शशिकला के मुताबिक सितंबर 2014 में बेंगलुरु की ट्रायल कोर्ट द्वारा दोषी करार दिए जाने के बाद से तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता की सेहत खराब रहने लगी थी।

बता दें आय से ज्यादा संपत्ति मामले में दोषी और जयललिता की करीबी शशिकला ने खुलासा किया है कि सितंबर 2016 में वह बाथरूम में अचेत हो गई थीं। शशिकला ने जस्टिस अरुमुगसामी कमिशन को दिए गए घोषणा पत्र में यह जानकारी दी है।

इसके अलावा कहा गया है, जयललिता 22 सितंबर 2016 को रात 9 बजे करीब बाथरूम में बेहोश होकर गिर पड़ीं। शशिकला ने उन्हें उठाकर बिस्तर पर लिटाया और फिर अपोलो अस्पताल ले जाया गया। अगले दिन उनकी तबीयत बेहतर रही।

शशिकला ने यह भी बताया है कि बीच में जब जयललिता को होश आया तो उन्होंने कहा कि वह बेहोश थीं इसलिए उन्हें अस्पताल ले जाया जा सका और अगर वह होश में होतीं तो ऐसा नहीं होने देतीं।

शशिकला ने बताया कि अस्पताल में जया से मिलने नीलोफर कफील, एम थंबीदुरई और सी विद्यासागर राव पहुंचे थे। उन्होंने बताया कि 28 सितंबर 2016 को अम्मा की तबीयत बिगड़ गई। इसके बाद एम्स के डॉक्टरों ने ट्रैकियॉटमी की सलाह दी।

शशिकला ने बताया है कि जयललिता ने साफ कहा था कि कोई भी उनसे अस्पताल में तब तक न मिले जब तक वह न चाहें। उन्होंने कहा था कि जब वह ठीक होकर घर पहुंचेंगी तो सभी उनसे मिल सकते हैं।

जयललिता की मौत आज भी एक पहेली है और लगता है यह हमेशा अबूझ पहेली ही रहेगी।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓