(प्रतीकात्मक चित्र)
Print Friendly, PDF & Email



नई दिल्ली : एक बार फिर जम्मू क्षेत्र में पाकिस्तानी सेना ने बमबारी शुरू कर दिया है। हालात यह हो गए हैं कि जम्मू के सैकडो गांवों पर पाक सेना और पाक रेंजर्स की जबरदस्त बमबारी से हालात युद्ध जैसे बन गए हैं। ताजा गोलाबारी में 4 और नागरिकों की मौत हो गई।  अब तक पिछले 8 दिनों में 11 लोगों की मौत हो चुकी है।

अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 80 मिलीमीटर और 120 मिलीमीटर मोर्टार गिरने से करीब एक दर्जन गांव प्रभावित हुए हैं। अधिकारियों ने कहा कि इसकी वजह से जोरा फार्म में ग्वालों की एक बस्ती में आज सुबह आग भी लग गई। उन्होंने कहा कि इसमें करीब दो दर्जन झोपड़ियों को नुकसान पहुंचा। गोलाबारी में 50 से अधिक लोग जख्मी हो गए हैं। साथ ही सौ से ज्यादा पशु मारे जा चुके हैं। सौ से अधिक घरों को क्षति पहुंची है। हजारों लोग पलायन कर चुके हैं। पाक सेना और रेंजर्स ने जम्मू क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ लगी अग्रिम चौकियों और गांवों को निशाना बनाकर मोर्टार के गोले दागे। आज सुबह से फायरिंग में अब तक 4 नागरिकों की मौत हो गई है। जम्मू के सरहदी प्रभावित इलाकों में शिक्षण संस्थान अब भी बंद हैं। अधिकारियों के मुताबिक जम्मू जिले के अरनिया और आर एस पुरा सेक्टर में सबसे ज्यादा नुकसान हुआ हैं।

बीएसएफ के मुताबिक गोलाबारी और मोर्टार के गोले गिरने का सिलसिला पूरी रात जारी रहा। अखनूर से लेकर सांबा तक सीमा से लगे सभी सेक्टरों के लोग इसकी चपेट में हैं। बीएसएफ की जवाबी कार्रवाई में चार से पांच पाकिस्तानी रेंजरों के हताहत होने की खबर है और उनके कई बंकर भी नष्ट हुए हैं। यह पता चला है कि घायल रेंजरों में से एक को लाहौर के अस्पताल में शिफ्ट किया गया है, जबकि दो अन्य का स्थानीय अस्पताल में इलाज किया जा रहा है।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
loading...