फाइल फोटो
Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली
भाजपा और उसके सहयोगियों द्वारा कांग्रेस को मुसलामानों की पार्टी बताने वाले राहुल गाँधी के कथित बयान को सियासी मुद्दा बनाए जाने के बाद अब राहुल गांधी ने एक ट्वीट करके कहा है कि कांग्रेस कतार में खड़े आख़िरी आदमी के साथ है। पीएम नरेंद्र मोदी ने पिछले सप्ताह आजमगढ़ की एक रैली में अपने भाषण में यह सवाल किया था कि कांग्रेस सिर्फ मुस्लिम पुरुषों पार्टी है या फिर मुस्लिम महिलाओं की भी।

हालिया ट्वीट में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर लिखा है कि “मैं पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति के साथ खड़ा हूं, जो हाशिये पर धकेला गया है, दमित-पीड़ित है, अत्याचार का शिकार है। उनका धर्म, जाति और आस्था मेरे लिए मायने नहीं रखती। जो दर्द में हैं, उन्हें तलाशता हूं, और उन्हें सीने से लगाता हूं। मैं सभी प्राणियों से प्यार करता हूं। मैं ही कांग्रेस हूं।”

गौरतलब है कि एक उर्दू अखबार इंकलाब में कांग्रेस के अल्पसंख्यक मोर्चे के अध्यक्ष नदीम जावेद के हवाले से ये ख़बर छपी। खबर के मुताबिक राहुल गांधी ने कहा अगर बीजेपी कहती है कि कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी है तो ठीक है। कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी है, क्योंकि मुसलमान कमज़ोर हैं और कांग्रेस हमेशा कमज़ोरों के साथ खड़ी रही है। इसी बयान के आधार पर बीजेपी बताने में लगी है कि राहुल ने कांग्रेस को मुसलमानों की पार्टी बताया है। नदीम जावेद का कहना है, इस बात को तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है। राहुल से मिलने वाले मुस्लिम बुद्धिजीवियों के मुताबिक राहुल ने ऐसा कुछ नहीं कहा था।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓