Print Friendly, PDF & Email



नई दिल्ली, नेशनल डेस्क
फिल्म निर्माता महेश भट्ट और उनकी बेटी पूजा भट्ट हाल ही में दिल्ली में अपने नाटक ‘डैडी’ की स्क्रीनिंग के लिए थे। नाटक ‘डैडी’ महेश भट्ट की सुपरहिट फिल्म ’डैडी’ से प्रेरित थी, जिसका मंचन मंडी हाउस स्थित श्रीराम सेंटर में हुआ। ‘डैडी’ का मूल विषय महेश भट्ट की शराब के साथ व्यक्तिगत लड़ाई से पैदा हुआ था। एक समय में महेश भट्ट को पीने की भयंकर लत लग गई थी, जिसने इनके व्यक्तिगत जीवन को अपरिवर्तनीय रूप से प्रभावित किया, जब तक कि वह अपनी मूर्खता को महसूस नहीं कर पाए। आखिरकार, इन्होंने खुद में अच्छी आदत डालने का फैसला किया।

‘डैडी’ पूजा भट्ट की पहली फिल्म थी, जिसे उनके पिता महेश भट्ट ने ही लिखी थी। ‘डैडी’, रोल रिवर्सल की एक संवेदनशील राजकुमारी और उसके पिता की एक अनोखी परी कथा है कि कैसे अपने साहस ने उन्होंने बुरी आदतों से परे धकेलकर अपने लिए खुशियां बटोर लीं। बकौल महेश भट्ट, ‘मैं एक सफल फिल्म निर्माता था। एक बार जब मैं पार्टी से घर लौटा, तो बेटी शाहीन ने मेरा चेहरा देखकर अवपा मुंह फेर लिया। इस घटना ने पूरी तरह से मेरा जीवन बदल दिया। मैंने पीना छोड़ दिया और ‘डैडी’ की कहानी लिख डाली।’ महेश भट्ट ने बताया कि यह तीन दशक पुरानी बात है, लेकिन उसके बाद से उन्होंने अल्कोहल को कभी हाथ नहीं लगाया।
‘डैडी’ पहली ऐसी फिल्म है, जिसे एक नाटक के रूप में मंचन किया गया। खास बात यह भी कि नाटक अपनी मूल फिल्म के प्रति पूरी तरह से वफादार भी रही। दिनेश गौतम द्वारा निर्देशित इस नाटक को महेश भट्ट ने खुद प्रस्तुत किया, जबकि इमरान जाहिद ने लीड भूमिका निभाई।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
loading...