Print Friendly, PDF & Email



दक्षिण अफ्रीका के केपटाउन में डॉक्टरों ने सर्जरी की दुनिया में एक जबरदस्त और ऐतिहासिक सफलता हासिल करते हुए एक 21 साल के युवक के प्राइवेट पार्ट का सफल ट्रांसप्लांट किया| दुनिया में इस तरह की यह पहली सफल सर्जरी मानी गयी| दरअसल तील साल पहले खतना के दौरान युवक के प्राइवेट पार्ट को क्षति पहुंची थी, जिसके बाद उसे कई तरह की समस्या आ रही थी| जिसमें प्रमुख समस्या सेक्स को लेकर थी| यूनिवर्सिटी के यूरोलॉजी विभाग के प्रमुख आंद्रे वान डी| मेरवे के मुताबिक़ आप कल्पना कर सकते हैं कि 18-19 साल के एक युवक के प्राइवेट पार्ट में समस्या उसकी पूरी जिंदगी तबाह कर सकती है| लेकिन एक व्यक्ति‍ ने अपना प्राइवेट पार्ट डोनेट किया, जिसकी मृत्यु के बाद हम इस सर्जरी में सफल हुए|

अब वो दिन लद गए जब लोग सजी संवरी दुल्हन को ही देखने के लिए उत्सुक रहते थे| अब तो दुल्हन के साथ दूल्हे पर भी सभी की नज़रे रहती है| इसलिए शादी से पहले दुल्हन का ही सजना संवरना काफी नहीं है बल्कि दूल्हे को भी शादी से पहले ग्रूमिंग करनी चाहिए ताकि शादी की पहली रात वह पूरे आत्मविश्वास के साथ दुल्हन का साथ दे|

आज की चिकित्सा ने पुरुष को महिलाओं की तरह अपनी शारीरिक कमियों को ख़त्म करने के लिए कई विकल्प प्रदान किये हैं| इसलिए पुरुष भी अब आसान और तेज तरीका अपनाते हुए सर्जरी या और कोई चिकत्सीय मदद लेने से भी गुरेज नहीं करता| फिर चाहे प्लास्टिक सर्जरी हो या कोस्मेटिक इम्प्लांट या फिर सौंदर्य की दुनिया में उपलब्ध ग्रूमिंग उत्पाद और सर्विस| ये तमाम सर्जरी सिर्फ सौंदर्य के लिए नहीं बल्कि लिंग के उपचार से लेकर बदन के अलग अलग हिस्सों को सुन्दरता प्रदान करने के काम भी आती है| जैसे इरेक्टाइल डिसफंक्शन, क्र्वेचर करेक्शन, और लिंग का आकार बढ़ाना आदि| इसके अलावा नाक को सही आकार देना, अतिरिक्त चर्बी को कम करना, साँसों की दुर्गन्ध से लेकर दांतों की चमक और अनचाहे बालों से लेकर पुरुषों के उभरते स्तनों को सही आकार|

पुरुषों में लोकप्रिय कास्मेटिक सर्जरी

यह भी पढ़ें :  1 फ़रवरी को संसद नहीं आएंगे तृणमूल कांग्रेस के सांसद

आम धारणा यह रही है कि महिलाएं ही केवल कास्मेटिक सर्जरी का सहारा लेती हैं लेकिन ताजा सर्वे की मानें तो अब मध्यवय के पुरुष आकर्षक दिखने के लिए चेहरे और होंठों की सुंदरता बढ़ाने के लिए सर्जरी करावा रहे हैं| अमेरिकी सोसाइटी आफ प्लास्टिक सर्जन्स की रिपोर्ट के अनुसार पुरुषों की ओर से चेहरे, होंठ और कानों की सर्जरी कराने के मामले अधिक सामने आते हैं| अमेरिका में औसतन एक वर्ष में 11 लाख पुरुषों ने कास्मेटिक सर्जरी करवाई| यह आंकड़ा प्रतिवर्ष दो से चार प्रतिशत बढता रहता है|  इसके लिए लोग लाखों रुपए खर्च करने को तैयार रहते हैं| अब विदेश में हज़ारों डॉलर का ख़र्चा करने के बजाए पश्चिमी देशों के लोग भारत और चीन जैसे देशों में प्लास्टिक सर्जरी करा रहे हैं| भारत में प्लास्टिक सर्जरी का बाज़ार सालाना 30 प्रतिशत से ज़्यादा बढ़ रहा है| कॉस्मेटिक सर्जरी के विशेषज्ञों के दफ्तरों के बाहर अपनी नाक या चेहरा सुधारने लोगों की लाइनें बढ़ रही हैं|

ज्यादातर पुरुष चाहते हैं कि शादी की पहली रात से पहले ही सब दुरुस्त करवा लिए जाए| कॉस्मेटिक सर्जनों की मानें तो पुरुष अपने उभरे हुए सीने को सुगठित आकार देने के लिए सर्जरी (गाइनेकोमेस्टिया) कराने के लिये अधिक संख्या में आते हैं| साथ ही नाक को मनचाहा आकार देने (नोज प्लास्टी या राइनोप्लास्टी), चेहरे की झुर्रियों, सिकुड़न, ढीलापन, चेचक, कील-मुहांसे या उनके दाग, सफेद दाग, चेहरे पर कटे या जले के दाग और आंखों के नीचे पड़े गहरे काले धब्बे को दूर करने (फेस लिफ्ट या रिटिडेक्टोमी), पेट की चर्बी को हटाने (लाइपोसक्शन), बाल प्रत्यारोपण से गंजापन दूर कराने, कृत्रिम मसल्स आदि के लिये कॉस्मेटिक सर्जरी का सहारा ले रहे हैं| दिल्ली में डॉ कहते हैं इन्सानों को अपने शरीर से हमेशा से ही शिकायते थीं, लेकिन पिछले कुछ सालों में यह परेशानी औऱ बढ़ गई है| पहले लोगों के पास विकल्प नहीं थे, अब कॉस्मेटिक सर्जन के पास जाने का विकल्प है|

(कोस्मेटोलोजिस्ट से बातचीत पर आधारित)

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓