रंग की फैक्ट्री में केमिकल का पाइप फटने से हुआ हादसा हो गया है। फैक्ट्री के बराबर रह रहे 2 महिला व 2 बच्चों सहित 4 लोग केमिकल गिरने से गंभीर घायल, गंभीर हालत में ज़िला अस्पताल में भर्ती, थाना हाथरस गेट क्षेत्र के इंडस्ट्रीज़ एरिया स्थित भारत कलर इंडस्ट्रीज़ की घटना है यह।

हाथरस गेट कोतवाली इलाके के इंडस्ट्रियल एरिया में एक फैक्ट्री केमिकल का पाइप फटने से से 2 बच्चों सहित चार लोग झुलस गएइंडस्ट्रियल एरिया में बंद पड़ी आदिवासी फैक्ट्री में कुछ लोग रहते हैं।

शनिवार की दोपहर पड़ोस की एक फैक्ट्री भारत इंडस्ट्री से केमिकल वाला जिसकी चपेट में वहां रह रही माधुरी पत्नी शंकर शाह उसकी 4 साल की बेटी गुनगुन और सोनम पत्नी आशीष पांडे और उनके साथ माह के बेटे के पर पड़ गई।

जिसमें चारों लोग झुलस गए। चारों को बांग्ला जिला अस्पताल लाया गया है जहां सभी का इलाज चल रहा है।

जिला अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि केशव की हालत गंभीर है बाकी तीनों का उपचार कर दिया गया है।

बताते हैं कि फैक्ट्री संचालक सभी को किसी प्राइवेट नर्सिग होम में इलाज के लिए ले गए है ,पुलिस ने मौके पर पहुंचकर फैक्ट्री की जांच पड़ताल की है वहीं पुलिस को दी तहरीर का इंतजार है, अगर तहरीर आती है तो अवश्य कार्यवाही की जाएगी।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
data-matched-content-ui-type="image_card_stacked"

Print Friendly, PDF & Email
यह भी पढ़ें :  गोमांस की पोस्ट को लेकर पुलिस से मिले हिंदूवादी
SHARE
Previous articleतोगड़िया ने फिर छेड़ा राम मन्दिर का अलाप, मोदी पर साधा निशाना
Next articleमार्केट वैल्यू (कविता)- अनवर सुहैल
नीरज चक्रपाणी उत्तर प्रदेश के हाथरस में सक्रीय पत्रकारिता कर रहे हैं| रिपोर्टिंग का लम्बा अनुभव रखने वाले नीरज ने अनेक प्रतिष्ठित मीडिया सस्थानों के साथ काम किया है| नीरज हिंद वॉच मीडिया के लिए हाथरस से नियमित तौर पर स्वतंत्र एवं स्वैच्छिक रूप से रिपोर्टिंग करते रहे हैं| सटीक, निर्भीक और प्रमाणिक जमीनी पत्रकारिता उनकी विशेषता है| हिंद वॉच मीडिया जमीनी सरोकारों से जुड़ी जनपक्षधरता की पत्रकारिता कर रही है| साप्ताहिक अखबार, न्यूज़ पोर्टल, वेब चैनल और सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से जमीनी और वास्तविक ख़बरों को निष्पक्षता और निडरता के साथ अपने पाठकों तक पहुंचाने के लिए हिंद वॉच मीडिया पूरी समर्पण से काम करती है| भारत और विदेशों में यह वेब पोर्टल पढ़ा जा रहा है|