Print Friendly, PDF & Email



साहित्य का सिनेमा से पुराना नाता रहा है। आंकड़े बताते हैं कि जितनी भी फिल्में अब तक हिंदी या अन्य भाषाओं की कृतियों पर बनी हैं, उनका बॉक्स ऑफिस हश्र कुछ खास नहीं रहा है।

यहां तक कि मुंशी प्रेमचंद तो मुम्बई फिल्मों से असफलता ही हाथ लगी थी। उनकी कृतियों पर बनीं ज्यादातर फिल्में उस दौर में फ्लॉप रहीं।

इस मामले में कोई अपवाद रहा तो वह थे बिमल चंद्र। इनकी लगभग हर किताब पर बनी फिल्म सफल रही। लेकिन जो कृति सबसे ज्यादा सफल रही वो थी देवदास।
इस उपन्यास पर लगभग हर भाषा में फ़िल्म बनी और अब तक बन रही हैं।

अब इस कृति पर जरा नये ट्विस्ट के साथ ‘हजारों ख्वाहिशें ऐसी ‘, ‘चमेली’ और ‘यह साली जिंदगी’ जैसी फिल्में बनाने वाले जानेमाने निर्देशक सुधीर मिश्रा की मोस्ट अवेटेड फिल्म दास देव आखिरकार रिलीज़ के लिए तैयार है।

9 मार्च को रिलीज़ होने वाली इस फिल्म का पहला पोस्टर सामने आ गया है। फिल्म में अदिति राव हैदरी, ऋचा चड्ढा, राहुल भट्ट मुख्य भूमिका में नजर आएंगे। अनुराग कश्यप, विनीत सिंह, विपिन शर्मा और सौरभ शुक्ला केमियो रोल में होंगे।

फिल्म में चांदनी का किरदार निभा रहीं अदिति राव हैदरी ने कहा, ‘फिल्म में मेरा रोल चांदनी का है, जो प्रतिष्ठित किरदार चंद्रमुखी को नए अंदाज में परिभाषित कर रही है।

चांदनी आज के जनरेशन की मजबूत औरत है। आज के जमाने की एक ऐसी औरत जिसे किसी भी तरह के नियमों में नहीं सीमित किया जा सकता है।’

‘देवदास’ की कहानी पर बॉलिवुड में कई फिल्में बनाई गई, इनमें 1955 में बिमल रॉय के निर्देशन में बनी दिलीप कुमार, सुचित्रा सेन, वैजंतीमाला और मोतीलाल स्टारर देवदास को सबसे ज्यादा सराहना मिली।

बाद में 2002 में निर्देशक संजय लीला भंसाली ने भी नई तकनीक और शाहरुख खान, माधुरी दीक्षित, ऐश्वर्या राय जैसे कलाकारों को लेकर देवदास बनाई, भंसाली की यह फिल्म उनकी बेस्ट फिल्म के रूप में जानी जाती है।

आशा है सुधीर मिश्रा की यह फ़िल्म उनकी इमेज की तरह जरा हटकर ही होगी।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
loading...