(डीसीपी आईजीआई द्वारा ट्वीट की गई ईमानदार टैक्सी ड्राईवर देवेन्द्र कापड़ी की तस्वीर)
Print Friendly, PDF & Email

नई दिल्ली
गातार हो रही आपराधिक घटनाओं की वजह से कैब या टैक्सी ड्राईवर को समाज में संदिग्घ नजरों से देखा जाने लगा है लेकिन दिल्ली में 24 साल के एक टैक्सी चालक ने ईमानदारी का बेहतरीन परिचय देते हुए इस धारणा को झुठला दिया है। उसने अपनी गाड़ी में छूट गए एक यात्री के बैग को पुलिस को लौटा दिया जिसमें कीमती सामान और नकदी थी। कैब चालक देवेंद्र कापड़ी ने घरेलू हवाईअड्डे से मुबीशर वानी को अपनी ‘काली-पीली’ टैक्सी में लेकर मध्य दिल्ली के पहाड़ गंज इलाके में छोड़ा।

यात्री वानी के उतरने के बाद कापड़ी ने देखा कि उसकी टैक्सी में वानी का बैग छूट गया है। वह बैग को घरेलू हवाईअड्डे के थाने लेकर पहुंचा और वहां जमा करा दिया। डीसीपी (हवाईअड्डा) संजय भाटिया ने बताया कि बैग में सोने के जेवर, लैपटॉप, एक आईफोन, कैमरा, आठ लाख रुपये मूल्य की अमेरिकी मुद्रा और पासपोर्ट तथा वीजा कागजात जैसे जरूरी दस्तावेज भी थे।

वानी ने पुलिस स्टेशन पहुंचकर बैग प्राप्त किया और टैक्सी चालक की ईमानदारी की तारीफ की। पुलिस ने चालक को उसकी ईमानदारी के लिए नकद इनाम दिए जाने की सिफारिश की।

पुलिस के अनुसार यात्री का बुधवार (4 जुलाई) सुबह अमेरिकी दूतावास में वीजा के लिए इंटरव्यू था। पुलिस को बैग में शादी का एक कार्ड और उस पर एक मोबाइल नंबर मिला। उन्होंने इस नंबर पर बात की तो पता चला कि यह वानी के भाई का नंबर है। उन्हें घटना की जानकारी दी गई।

दिल्ली पुलिस के डीसीपी (हवाईअड्डा) संजय भाटिया ने निम्नलिखित ट्वीट करते हुए ईमानदार टैक्सी ड्राईवर देवेंद्र कापड़ी की तारीफ़ की।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓