Print Friendly, PDF & Email



खेल से जुड़ी प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती इसलिए ट्रक ड्राइवर के बेटे ने वेटलिफ्टिंग में जीता सिल्वर मेडल, जी हां, गुरुराजा ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में भारत के लिए पहला पदक जाती है। उन्होंने पुरुषों के 56 किलोग्राम भारवर्ग वेटलिफ्टिंग इवेंट में सिल्वर मेडल हासिल किया।

स्नैच में उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ट प्रदर्शन करते हुए 111 किलोग्राम भार उठाया। वहीं इसके बाद इस 28 वर्षीय खिलाड़ी ने क्लीन ऐंड जर्क में 138 किलोग्राम भार उठाया। कुल मिलाकर उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 249 किलोग्राम भार उठाया।

मलयेशिया के मोहम्मद इजहार अहमद ने 261 किलोग्राम कुल भार उठाकर गोल्ड मेडल हासिल किया। यह कॉमनवेल्थ गेम्स का रेकॉर्ड भी है। वहीं श्री लंका के चतुरंगा लकमल (248 किलोग्राम) भार उठाकर ब्रॉन्ज मेडल जीता। एक ट्रक ड्राइवर के बेटे गुरुराजा कर्नाटक के कुंडपुरा के रहने वाले हैं। उन्होंने वेटलिफ्टिंग से पहले पावरलिफ्टिंग में भी हाथ आजमाया है।

उधर आधी आबादी ने गोल्ड में बाजी मारी, वर्ल्ड चैंपियन मीराबाई चानू ने 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को पहला गोल्ड मेडल जितवाया है। चानू ने महिलाओं के 48किलोग्राम में भारत को पदक जितवाया। भारवर्ग में स्नैच में (80kg, 84kg, 86kg) का भार उठाया। वहीं क्लीन ऐंड जर्क के पहले प्रयास में उन्होंने 103 किलोग्राम भार उठाया और दूसरे प्रयास में 107 किलोग्राम का भार उठाया और तीसरे प्रयास में 110 किलोग्राम भार उठाया।

80 किलोग्राम भार उठाते ही उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स का रेकॉर्ड बना दिया। इसके बाद अपने तीसरे और आखिरी प्रयास में उन्होंने 86 किलो उठाकर कॉमनवेल्थ के अपने ही सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन (85किलोग्राम) को पीछे छोड़ दिया।

चानू को फरवरी में महिंद्रा स्कॉर्पियो टाइम्स ऑफ इंडिया अवॉर्ड्स वेटलिफ्टर ऑफ द ईयर का खिताब दिया गया था। यह खिताब उनके पिछले साल वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने के उपलक्ष्य में दिया गया था।

चानू को शुरू से ही गोल्ड का प्रबल दावेदार माना जा रहा था। चानू ने 2014 के कॉमनवेल्थ गेम्स में भी सिल्वर मेडल हासिल किया था। इससे पहले भारत के लिए दिन का पहला पदक गुरुराजा ने हासिल किया था। उन्होंने पुरुषों के 56 किलोग्राम भारवर्ग में सिल्वर मेडल जीता था।

मणिपुर के इम्फाल ईस्ट में जन्मीं मीराबाई ने 2007 में वेटलिफ्टिंग शुरू की। मीराबाई को कुंजरानी देवी ने वेटलिफ्टिंग के लिए प्रेरित किया।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
loading...