Print Friendly, PDF & Email



 

2 अक्टूबर 2017 | हाथरस, सासनी
अहिंसा के बल पर स्वाधीनता हासिल करने वाले महात्मा मोहनदास करमचंद गांधी के जन्मदिन पर एक पखवाडे से चला स्वच्छता ही सेवा अभियान मात्र फोटोग्राफी में सिमटकर रह गया। करीब एक पखबाडे से कई संस्थाएं शहर और गांव में सफाई करने में जुटी थी। और फोटो खिंचाकर समाचार पत्रों में छपीं मगर महात्मा गांधी के जन्मदिन पर सासनी में गंदगी का अंबार देखने को मिला। यहां सफाई के नाम पर केवल लकीर पीटी गई।

बता देें कि एक पखवाडे से भाजपा कार्रकर्ताओं एवं अन्य समाज सेवी संस्थाओं ने शहर में काफी झाडू चलाई मगर दो अक्टूबर को किसी ने भी कहीं भी सफाई अभियान को अमली जामा नहीं पहनाया। नगर पंचायत और बच्चा पार्क बस स्टैंड जो “ाहर के मुख्य केन्द्र माने जाते हैं वहां गंदगी के ढेर लगे रहे। वहीं शहर में भी कई मोहल्लों में गंदगी के ढेर और नालियों का कचरा भरा पडा रहा। नालियां गंदगी से उफान लेती नजर आर्ई। इस दिन छुट्टी होने के कारण सफाई कर्मचारियेां ने भी स्वच्छ भारत और स्वस्थ भारत अभियान में अपनी कोई भूमिका अदा नहीं की। मगर दोपहर के बाद एक दो सफाई कर्मचारी “ाहर में सफाई करने आए।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓
loading...



SHARE
Previous articleबिजली विभाग की लापरवाही से किशोर का पैर कटा
Next articleउत्तर प्रदेश का एक ऐसा जिला जिसकी 75 ग्राम पंचायतों को ओडीएफ घोषित किया गया
नीरज चक्रपाणी उत्तर प्रदेश के हाथरस में सक्रीय पत्रकारिता कर रहे हैं। रिपोर्टिंग का लम्बा अनुभव रखने वाले नीरज ने अनेक प्रतिष्ठित मीडिया सस्थानों के साथ काम किया है। नीरज हिंद वॉच मीडिया के लिए हाथरस से नियमित तौर पर स्वतंत्र एवं स्वैच्छिक रूप से रिपोर्टिंग करते रहे हैं। सटीक, निर्भीक और प्रमाणिक जमीनी पत्रकारिता उनकी विशेषता है। हिंद वॉच मीडिया समूह जमीनी सरोकारों से जुड़ी जनपक्षधरता की पत्रकारिता कर रहा है। साप्ताहिक अखबार, न्यूज़ पोर्टल, वेब चैनल और सोशल मीडिया नेटवर्क के माध्यम से जमीनी और वास्तविक ख़बरों को निष्पक्षता और निडरता के साथ अपने पाठकों तक पहुंचाने के लिए हिंद वॉच मीडिया पूरी समर्पण से काम करता है। भारत और विदेशों में यह वेब पोर्टल पढ़ा जा रहा है।