Monday, October 22, 2018

राजस्थान में आयोजित होगा इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल, दिखाई जाएगी बच्चों की...

जयपुर, राजस्थान राजस्थान के श्रीगंगानगर शहर में जनवरी 2019 के अंतिम सप्ताह में फिल्म फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है। आयोजकों के अनुसार यह...

दर्ज लम्हे : खुदकुशी के (नाटक)- दिनकर बेडेकर

व्यक्ति रेखा : जनक, राजा, मोहिनी ( किसी नाटक की रिहर्सल का कमरा। थोड़ा फर्नीचर जमा कर रखा है। एक दरवाजा। प्रकाश योजना केवल आवश्यक...

सिपाही की माँ (नाटक)- मोहन राकेश

देहात के घर का आँगन, अँधेरा और सीलदार आँगन के बीचोबीच एक खस्ताहाल चारपाई पड़ी है। एक और वैसी ही चारपाई दीवार के साथ...

एशिया के सबसे बड़े नाट्य उत्सव भारंगम 2017 को दर्शकों का...

बसंत पंचमी के उल्लास और बजट की उत्सुकता के बीच भारत ही नहीं एशिया के सबसे बड़े नाट्य उत्सव भारत रंग महोत्सव (भारंगम) की...

यौन उत्पीड़न की कहानी, अमेरिकी कलाकारों की जुबानी

भारत हो या अमेरिका, यौन शोषण के मामले हर जगह दिख रहे हैं। अभी इस बारे में एक और बड़ा खुलासा हुआ है कि...

आम आदमी (लघु कथा)- शंकर पुणतांबेकर 

नाव चली जा रही थी। मँझदार में नाविक ने कहा, 'नाव में बोझ ज्यादा है, कोई एक आदमी कम हो जाए तो अच्छा, नहीं तो...

आ गया है द कॉन्डम मैन

सिनेमा अपने सामाजिक सरोकारों के साथ चल रहा है, यह देखकर खुशी होती है। हाल में एक फिल्म समारोह में एक फ़िल्म प्रदर्शित की...

विलुप्त हो रहे प्राणी (कविता)- आंद्रेइ वोज्नेसेन्स्की

विलुप्त हो रहे सभी प्राणियों का विवरण लिख दिया गया है मेरी श्वेत पुस्तिका में। चिंताजनक हैं ये कुछ लक्षण कि पहले तो वर्ष भर के लिए फिर...

तुम्हारे साथ रहकर (कविता) : सर्वेश्वरदयाल सक्सेना

तुम्हारे साथ रहकर अक्सर मुझे ऐसा महसूस हुआ है कि दिशाएँ पास आ गयी हैं, हर रास्ता छोटा हो गया है, दुनिया सिमटकर एक आँगन-सी बन गयी है जो खचाखच...

घास की पुस्तक (कविता)- अर्सेनी तर्कोव्‍स्‍की

अरे नहीं, मैं नगर नहीं हूँ नदी किनारे कोई क्रेमलिन लिये मैं तो नगर का राजचिह्न हूँ।   राजचिह्न भी नहीं मैं उसके ऊपर अंकित तारा मात्र हूँ, रात...