Sunday, December 16, 2018
Home खुला पत्र

खुला पत्र

    वाह रे सरकार: अच्छे भले जिंदा आदमी को कागजों में मार...

    जिन्दा को मुर्दा और मुर्दा को जिन्दा करने के सरकारी कागजों में देर नहीं लगती, अब देश में प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी हो या प्रदेश...

    जयललिता की मौत से पहले का एक अहम खुलासा किया शशिकला...

    शशिकला जेल में थी लेकिन पति की मृत्यु के बाद उनके अंतिम संस्कार के लिए पेरोल पर बाहर निकली हैं। यह बात तो सब...

    भागलपुर दंगों में नीतीश कुमार का हाथ क्यों बता रहे हैं...

    राजनीति में आरोप औजर प्रत्यारोप का दौर तो चलता रहता है लेकिन कई बार आरोप इतने संगीन हो जाते हैं कि उन पर चर्चा...

    RTI – सूचना के अधिकार से जुड़े सवाल – 7

    सूचना का अधिकार किसी भी लोकतान्त्रिक व्यवस्था में आम आदमी को प्राप्त सबसे ताकतवर हथियार है| इससे जुड़े सवालों और भ्रम-भ्रांतियों को समझने के...

    भाजपा को भारी पड़ेगा नाराज चंद्रबाबू का इस्तीफा, चुनावी हारें और...

    राजनीति में कौन कब दोस्त बन जाए और कब दुश्मन कहा नहीं जा सकता। अब तेलगु देशम पार्टी के मुखिया चंद्रबाबू नायडू को ही...

    वीर्य/स्पर्म/सीमन से भरे गुब्बारे लड़कियों पर फेंके, होली को “अनहोली” बनाने...

    होली का त्यौहार आपसी सौहार्द और प्यार मोहब्बत का त्यौहार होता है लकिन कुछ लोगों की मानसिकता इतनी निम्न स्तर की होती है की...

    श्रीदेवी के नाम केंद्रीय मंत्री का खुला पत्र

    अभिननेत्री श्रीदेवी के जाने से हर कोई सदमे में है। फ़िल्म फैन्स से लेकर बड़ी हस्तियों से भी उनके जाने का ग़म सुन सकते...

    सुशील मोदी का पासपोर्ट जब्त क्यों कराना चाहते हैं तेजस्वी यादव

    बिहार की सियासत में जमकर बयानबाजी का दौर चल रहा है। लालू प्रसाद यादव वाली स्टाइल में उनके बेटे भी खुलकर अपनी बात रखने...

    भाजपा को वोट न देना, खतरनाक है – बैप्टिस्ट चर्च

    नागालैंड में चुनावी सरगर्मी शबाब पर है। आमतौर पर यहां होने वाले चुनावों में बहुत ज़्यादा उठापठक नहीं दिखती लेकिन इस बार बैप्टिस्ट चर्च...

    विश्व सुन्दरी के नाम एक लेखिका का खुला-पत्र

    अचानक सुर्खियाँ बटोरने वाली हरियाणा की बेटी के नाम एक लेखिका का खुला-पत्र आजकल सोशल मीडिया में खूब चर्चा में है| विश्व सुंदरी बनीं...