Sunday, February 25, 2018

कौन बनाता है भारतीय मुसलामानों को संदिग्ध ?

"जेंटलमैन, ब्लड ईज थिकर दैन वाटर " ⇒ मोहम्मद अली जिन्ना नेहरु और जिन्ना ने तो अपने स्वार्थ के कारण मुल्क को दो टुकड़ों में...

युद्ध स्मारकों को जातीय चश्में से न देखा जाए

नया साल हर तीन सौ पैंसठ दिनों के बाद आ जाता है लेकिन 2018 के पहले दिन को हम इस लिहाज से अलग कह...

आसान नहीं है बद्री नारायण लाल हो जाना

कम्युनिष्ट पार्टी के इतिहास में 21 मई 2017 कभी नहीं भुल पाने वाली वह तारीख है, जब साम्यवादी आन्दोलन का एक चमचमाता लाल सितारा...

चुप रहकर क्यूँ सहना, मैंने तो मनचले की खाल नोंच ली...

लड़कियों प्रतिरोध करो, जायरा को चीखना चाहिए था। सिर आसमान पर उठा लेना चाहिए था। कोई आपको मोलेस्ट कर रहा है, तब आप चुप...

चर्च, धर्म और भगवान को खरीदना चाहती है भाजपा- राहुल गांधी

पार्टी की कमान संभालने के बाद से ही राहुल गांधी बतौर विपक्ष आक्रामक तेवर अपना रहे हैं। उन्हें जब भी मौका मिलता है भाजपा...

स्मॉग से पहले मानसिक प्रदूषण दूर करें

कहते हैं कि वर्तमान की हर त्रासदी और आपदा के बीज गुज़रे ज़माने के गर्भ में छिपे होते है और इनका प्रभाव भविष्य में...

सत्ता विरोधी केजरीवाल कैसे बन गए सत्ताधीश ?

सत्ता वो शय है, जो कई बार आपको खुद की खबर भी नहीं लगने देती| ऐसा ही कुछ अरविंद केजरीवाल के साथ भी हुआ|...

क्यूँकि बिलकीस बानो निर्भया नहीं है

इस वर्ष मई के पहले सप्ताह में बहुचर्चित बिलकिस बानो केस का निर्णय आ गया। इत्तेफ़ाकन उसी सप्ताह में एक अन्य चर्चित केस निर्भया...

विश्व शौचालय दिवस पर भारतीय संस्कृति के “शीर्षासन मॉडल” की भी...

यहाँ जिन लोगों को ब्रह्मपुरुष के मस्तिष्क ने जन्म दिया उनका मस्तिष्क कोइ काम नहीं करता, भुजाओं से जन्मे लोगों की भुजाओं में लकवा...

सुषमा स्वराज ने पीएम मोदी को “वीरू” बना डाला

सुषमा स्वाराज एक गंभीर और कुशल वक्ता हैं| फिर उन्होंने अमेरिकी इतिहास के सबसे अक्खड़, अलोकप्रिय, बदनाम और नाकारा इंसान से भारत के प्रधानमंत्री...
Twitter Auto Publish Powered By : XYZScripts.com