Print Friendly, PDF & Email

री इलायची का इस्तेमाल हर रसोई में होता है। इसकी खूशबू खाने का स्वाद और भी बढा देती है। हरी इलायची सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद है। इसे दूध में डालकर पीने से फ्लेवर बहुत अच्छा बन जाता है। इसे खाने से हाई ब्लड प्रैशर कंट्रोल हो जाता है, खांसी,बदहजमी, सांसों की दुर्गंध दूर करने के अलावा इसके और भी बहुत फायदे हैं।

गले की खराश – कई बार मौसम में बदलाव के कारण गला बैठ जाता है और गले में खराश भी होने लगती है। सुबह के समय और रात को 2 छोटी इलायची चबा-चबा कर खाएं। इसके बाद गुनगुना पानी पी लें। फायदा होगा।

सूजन- गले में इंफैक्शन के कारण सूजन आ गई है तो मूली के पानी में छोटी इलायची पीसकर खाएं। इससे सूजन कम होने लगती है।

खांसी- सर्दी के कारण बार-बार खांसी लग जाती हैं तो 1 हरी इलायची,1 छोटा टुकड़ा अदरक,1 लौंग और 3-4 तुलसी के पत्ते एक साथ खाएं।

मुंह के छाले- मुंह में बार-बार छाले होने से परेशान हैं तो बड़ी इलायची के दानों को बारिक पीसकर इसमें मिश्री का पाउडर डालकर छालों पर लगाएं। जल्दी आराम मिलेगा।
बदहजमी- कई बार खाना ज्यादा खा लेने से बदहजमी की परेशानी हो जाती है। केले खाने से भी बदहजमी होने लगती है। खाना खाने के बाद और केला खाने के बाद तुरंत इलायची खा लें।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓