Print Friendly, PDF & Email

रायपुर, छत्तीसगढ़
भिलाई स्‍टील प्‍लांट(बीएसपी) में मंगलवार को गैस पाईप लाईन में एक बड़ा धमाका हो गया। इस हादसे में 9 कर्मियों की मौत हो गई और 14 लोग घायल हो गये। घायलों में कुछ लोग बुरी तरह झुलस गए जिनकी हालत नाजुक बतायी जा रही है। घायलों को भिलाई में ही एक अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है।

प्लांट में रिपेयरिंग का काम चल रहा था। पुलिस के मुताबिक, पाइपलाइन से गैस रिसने लगी। वेल्डिंग के दौरान निकली चिंगारी से धमाका हो गया। प्लांट में धुआं भर जाने की वजह से लापता कर्मचारियों को ढूंढने में मुश्किलें आईं। हादसे के वक्त प्लांट में 25 लोग मौजूद थे।

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने कहा कि प्लांट के कोक ओवन बैटरी कॉम्प्लेक्स नंबर 11 में धमाका हुआ था। इस मामले में केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने भी रिपोर्ट मांगी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जून में ही यहां के विस्तारित संयंत्र का लोकार्पण किया था।

स्टील अथॉरिटी की वेबसाइट के मुताबिक, भिलाई का स्टील प्लांट ही भारतीय रेलवे को वर्ल्ड क्लास रेल मुहैया कराने वाला इकलौता सप्लायर है। यहां स्टील की सालाना उत्पादन क्षमता 3.15 मिलियन टन है।

2014 में हुए हादसे में 6 लोगों की जान गई थी
भिलाई इस्पात संयंत्र में जून-2014 में जहरीली गैस के रिसाव से दो उप महाप्रबंधकों समेत छह लोगों की मौत हो गई थी और करीब 40 लोग घायल हो गए थे। अगस्त 2018 में भी स्टील प्लांट में हादसे हुए थे। वहीं इस घटना की सूचना मिलते ही संयंत्र में काम कर रहे कर्मियों के परिजन गेट पर पहुंचकर हंगामा करने लगे हैं।

इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रिया ⇓